उत्तर प्रदेश

Ayodhya Ram Mandir: 22 जनवरी को देशभर के हर मंदिर में होगी घंटे-घड़ियाल की गूंज, करीब 60 करोड़ लोगों को जोड़ने के लिए तैयारी में

Ayodhya Ram Mandir: Ayodhya में 22 जनवरी को भगवान श्रीराम के मंदिर की प्रतिष्ठापन समारोह की गूंथ दुनियाभर में सुनी जाएगी। पूरे देश के लगभग 60 करोड़ लोगों को इस घटना से सीधे और परोक्ष रूप से जोड़ने के लिए तैयारी है। संघ और विश्व हिन्दू परिषद ने पहले ही प्रण प्रतिष्ठा और इसके बाद के दो महीने के लिए योजनाएं बना रखी थीं। इसमें BJP भी शामिल है।

22 जनवरी को BJP के सभी सांसद और विधायकों को पूरे राज्य के मंदिरों में ड्यूटी पर लगा गया है। Ram Mandir का लाइव टेलीकास्ट देश के पाँच लाख गाँवों में दिखाया जाएगा। देश के सभी मठों और मंदिरों में धार्मिक घटनाओं के लिए तैयारी की जा रही है। 10 करोड़ से अधिक परिवारों को Ram Mandir के माध्यम से आमंत्रित किया गया है। BJP ने 22 जनवरी के लिए अपनी तैयारियों को पूरा कर लिया है।

एकतरफ, PM Modi 22 जनवरी को पूरी विधिवत रूप से रामलला को मंदिर में स्थापित करेंगे। इसी समय, देश के हर मंदिर में घंटों और जलसा बजेगा। इसके लिए, BJP ने सभी अपने सांसद, विधायक, जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों और कार्यकर्ताओं को मंदिरों और कार्यक्रम स्थलों पर कर्तव्य पर लगा दिया है।

हेलीकॉप्टर सेवा 19 जनवरी से

19 जनवरी से लखनऊ से Ayodhya के लिए हेलीकॉप्टर सेवा शुरू होगी। लखनऊ से Ayodhya के लिए कुल छह हेलीकॉप्टर्स व्यवस्थित की गई हैं, जिनमें से तीन हेलीकॉप्टर्स Ayodhya से उड़ेंगी और तीन हेलीकॉप्टर्स लखनऊ से। यह 19 जनवरी से लखनऊ के रामबाई मैदान से शुरू होगा। इन हेलीकॉप्टर्स की क्षमता 8-18 यात्रीयों को ले जाने की है। भक्तों को हेलीकॉप्टर यात्रा पूर्व-पुर्व बुक करनी होगी। बुकिंग की अनुसूची और किराया दरें 16 जनवरी की शाम से तय होंगी। लखनऊ से Ayodhya की दूरी को सिर्फ 30-

40 मिनट में किया जा सकता है।

श्रीरामलला की प्रतिष्ठापन समारोह की तैयारियां जारी हैं। धर्म पथ बना रहा है। प्रमुख द्वार पर सूर्य के सात होंसों का एक स्तंभ स्थापित किया गया है। प्रवेशद्वार पर इस स्तंभ को स्थापित करने से Ramnagari का एक सूर्यवंशी शहर होने का अहसास हो रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button